Aawara Shaam Hai – Manjul Khattar

Song Title: Aawara Shaam Hai
Artist: Meet Bros, Piyush Meholia
Lyrics: Shabbir Ahmed
Music: Meet Bros

Aawara Shaam Hai

Tu dhoop sunehri fizaao mein
rehti ho meri duaao mein
Tu dhoop sunehri fizaao mein

Rehti ho meri duaao mein
Tera naam jis lamhe me lu
Behad mile aaram hain

Teri galiyon mein aawara Shaam hain
Ho oh ho…
Teri galiyon mein aawara Shaam hain

Tu dhoop sunahri fizaao mein
rehti ho meri duaao mein
tu dhoop sunahri fizaao mein

Rehti ho meri duaao mein
Tera naam jis lamhe me lu
Behad mile aaram hain

Teri galiyon mein aawara Shaam hain
Ho oh ho…
Teri galiyon mein aawara Shaam hain

Jab tak tera chehra na utare meri aankho mein
tab tak na subah hoti hain ho oh
Jab tak tera chehra na utare meri aankho mein
tab tak na subah hoti hain

Jab tak teri khusbu na bikhre meri saanso me
Tab tak dhadkan bhi khoi rehti hain

Teri hansi hain nigaaho me, dil mahfooz teri banho me
Tera naam jis lamhe me lu, Behad mile aaram hain

Teri galiyon mein aawara Shaam hain
Ho oh ho…
Teri galiyon mein aawara Shaam hain

Meet Bros – Aawara Shaam Hai Mp3 Download

तू धुप सुनहरी फिज़ाओं में
रहती हो मेरी दुआओं में
तू धुप सुनहरी फिज़ाओं में

रहती हो मेरी दुआओं में
तेरा नाम जिस लम्हें में लूं
बेहद मिले आराम है

तेरी ही गलियों में आवारा शाम है
हो ओह ओ..
तेरी ही गलियों में आवारा शाम है

तू धुप सुनहरी फिज़ाओं में
रहती हो मेरी दुआओं में
तू धुप सुनहरी फिज़ाओं में

रहती हो मेरी दुआओं में
तेरा नाम जिस लम्हें में लूं
बेहद मिले आराम है

तेरी ही गलियों में आवारा शाम है
हो ओह ओ..
तेरी ही गलियों में आवारा शाम है

जब तक तेरा चेहरा उतरे ना मेरी आँखों में
तब तक ना मेरी सुबह होती है हो ओ
जब तक तेरा चेहरा उतरे ना मेरी आँखों में
तब तक ना मेरी सुबह होती है

जब तक तेरी खुशबू बिखरे ना मेरी साँसों में
तब तक धड़कन भी खोई रहती है
तेरी हंसी है निगाहों में, महफूज़ दिल तेरी बांहों में
तेरा नाम जिस लम्हें में लूं, बेहद मिले आराम है

तेरी ही गलियों में आवारा शाम है
हो ओह ओ..
तेरी ही गलियों में आवारा शाम है

मेरी नज़र देखो ज़रा, इसमें कहीं है घर तेरा
रास्ता भी तू, मंजिल भी तू, इक हमसफ़र है बस मेरा
सुबह मेरी और रात भी, डूबी है तेरी निगाहों में
तेरा नाम जिस लम्हें में लूं, बेहद मिले आराम है

तेरी ही गलियों में आवारा शाम है
हो ओह ओ..
तेरी ही गलियों में आवारा शाम है

तेरी ही गलियों में आवारा शाम है
हो ओह ओ..
तेरी ही गलियों में आवारा शाम है

Aawara Shaam Hai – Manjul Khattar

Yaara Mamta Sharma

Mr Jatt

I am a song lover from Rohtak Haryana.

You may also like...

Leave a Reply